मुख्‍यमंत्री जिस योजना को अपना ड्रीम प्रोजेक्‍ट बताते हैं उसके लिए वे एक रुपए खुद खर्च करने तैयार नहीं – खूबचंद पारख

राजनांदगांव। भारतीय जनता पार्टी के चलबो गौठान – खोलबो पोल अभियान के तहत नेताओं ने लालबहादुर नगर मंडल* के ग्राम रामपुर, मुंगलानी, झिंझारी, ठाकुरटोला व गोविंदपुर गौठान का निरीक्षण किया। इन सभी स्‍थानों पर शासकीय गौठानों के निरीक्षण में खामियों का दावा भाजपा ने किया है। नेताओं ने कहा कि – भूपेश सरकार ने गौठान योजनाओं के नाम पर महज औपचारिकता निभाई है। इस योजना की सफलता को लेकर किए जा रहे दावे गलत हैं।
भाजपा के वरिष्‍ठ नेता खूबचंद पारख के नेतृत्‍व में भाजपा नेताओं की टीम ने गौठानों का निरीक्षण किया। उन्‍होंने कहा कि – गौठानों में खाद सड़ रही है उसमें चिटियां-कीट पनप गए हैं। महिनों से खाद तैयार होने के बाद भी इसकी खरीदी नहीं की गई जिससे सैकड़ों क्विंटल खाद बर्बाद हो गई। गौठान समितियां भी निष्क्रिय हैं और महज औपचारिकता पूर्ण की जा रही है। कई गौठान अधूरे हैं। मवेशी यहां आते ही नहीं। गोबर खरीदी भी नहीं की जा रही है। ग्रामीणों को इस योजना के नाम पर महज ठगा जा रहा है। यह ठगेश सरकार के सबसे बड़े भ्रष्‍टाचार का प्रत्‍यक्ष प्रमाण है।
उन्‍होंने कहा कि – केंद्र सरकार की मनरेगा, 15वां वित्‍त, 14वां वित्‍त, डीएमएफ मद के पैसों का दुरुपयोग किया जा रहा है। प्रत्‍येक गौठान के लिए 19 लाख रुपए खर्च किए गए हैं जिनका अस्तित्‍व ही नज़र नहीं आता। भूपेश सरकार ने इन गौठानों के निर्माण में एक कौड़ी भी अपनी खर्च नहीं की है। यह एक तरह से ग्रामीण क्षेत्र के विकास के लिए मिले केंद्र सरकार के पैसों का दुरुपयोग है। उन्‍होंने कहा कि – मुख्‍यमंत्री जिस योजना को अपना ड्रीम प्रोजेक्‍ट बताते हैं उसके लिए वे एक रुपए खुद खर्च करने तैयार नहीं है। गौठान योजना पूरी तरह से एक सामूहिक भ्रष्‍टाचार का नमूना है। गौठानों के निर्माण के लिए लाखों खर्च किए गए जो कि जमीन पर नहीं दिखते। इसके मेंटनेंस के लिए प्रति माह 10 हजार रुपए दिए जा रहे हैं। यह रकम कहां जा रही है किसी को नहीं पता। गौठान समितियों में बैठे कांग्रेसी नेता सारी रकम हजम कर रहे हैं।
चलबो गौठान – खोलबो पोल अभियान के तहत निरीक्षण की शुरुआत ग्राम रामपुर से की गई। यहां ग्रामीण मंडल के पदाधिकारियों और ग्रामीणों की मौजूदगी में गौठान की व्‍यवस्‍था देखने पर पता चला कि यहां मवेशी आते ही नहीं। गौठान की टंकियों में खाद का निर्माण कर महिनों से रखा गया है जो कि अब खराब हो रहा है। न ही मवेशियों के लिए पानी और पैरा की व्‍यवस्‍था है और न ही गौठान समिति का कोई अता पता है। ग्रामीणों ने गौठान में खामियों की पुष्टि की है।
इसी तरह ग्राम मुंगलानी व झिंझारी में आज तक गौठान का निर्माण ही नहीं हो सका है। यहां गोबर की खरीदी भी नहीं हो रही है। ग्रामीणों ने बताया कि, गौठान योजना का कोई फायदा उन्‍हें अब तक नहीं मिला है। वहां मवेशियों को भी नहीं रखा जाता। उन्‍होंने बताया कि गौठान की गतिविधियों से जुड़ी कोई जानकारी आज तक नहीं दी गई है।
भाजपा नेता गौठान निरीक्षण के तहत जब ग्राम ठाकुरटोला पहुंचे तो यहां उन्‍हें अधूरा निर्मित गौठान मिला। ग्रामीणों ने बताया कि – गोबर खरीदी नहीं हो रही है और न ही यहां मवेशी आ रहे हैं। गौठान समिति निष्क्रिय है। निरीक्षण में बड़ी गड़बड़ी ग्राम गोविंदपुर के गौठान में देखने को मिली। यहां दो सौ कट्टा से ज्‍यादा खाद निर्माण किया गया है जिसे खरीदने वाला कोई नहीं है। सैकड़ों क्विंटल खाद अब भी खुले में पड़ी हुई है जिसे रखने के लिए उनके पास बोरी की भी व्‍यवस्‍था नहीं है।
निरीक्षण के दौरान वरिष्‍ठ भाजपा नेता खूबचंद पारख के साथ एलबी नगर मंडल भाजपा अध्‍यक्ष बोधीराम साहू, महामंत्री रामाधीन देवांगन,तिलक राम जी, अशोक वर्मा, रोशन लाल साहू, देवेंद्र यदु, चेतन साहू, नेता प्रतिपक्ष किशुन यदु, पार्षद पारस वर्मा, रानू जैन, कमलेश बंधे, जीवन चतुर्वेदी, राजू वर्मा, समीर श्रीवास्‍तव, वेंकटेश राव सहित ग्रामीणजन मौजूद थे।
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

22,878FansLike
3,912FollowersFollow
21,800SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles